• 14 Tháng Hai, 2022

शर्मनाक: 5 बच्चों की मां के साथ 17 लोगों ने किया गैंगरेप, बंधक पति सब देखता रहा

दुमका : मुफ्फसिल थाना क्षेत्र के एक गांव में मंगलवार की रात 5 बच्चों की मां के साथ 17 लोगों ने गैंगरेप की घटना को अंजाम दिया। महिला अपने पति के साथ बाजार से वापस घर आ रही थी और इसी दौरान आरोपियों ने उसके साथ दुष्कर्म किया। आरोपियों ने महिला के पति को बंधक बना लिया था। पीड़िता के बयान पर बुधवार को थाना में आरोपी राम मोहली समेत 17 लोगों पर एफआईआर दर्ज कर पुलिस मामले की जांच में जुट गई है।

घटना की सूचना के बाद डीआइजी सुदर्शन कुमार मंडल और एसपी अंबर लकड़ा थाना पहुंचे और मामले की जांच की। पीड़िता के पति ने बताया कि गांव में हर मंगलवार को बाजार लगता है। वह पत्नी के साथ करीब आठ बजे बाजार से घर लौट रहा था। रास्ते में नशे में धुत करीब 17 लड़के खड़े थे। पांच लड़कों ने उसे और दो ने पत्नी को पकड़ लिया। बाकी लड़के पत्नी को उठाकर झाड़ियों की ओर ले गए। जहां सभी लड़कों ने पत्नी के साथ गलत काम किया। घटना को अंजाम देने के बाद सभी किसी को बताने पर जान मारने की धमकी देकर चले गए।

दुष्कर्म करने वालों में शामिल राम मोहली को पत्नी पहचानती थी। जबकि बाकी को नहीं पहचानती है। इधर, सामूहिक दुष्कर्म की बात सामने आने के बाद डीआईजी और एसपी मुफ्फसिल थाना पहुंचे और महिला से पूरे घटनाक्रम की जानकारी ली। महिला के बयान पर मामला दर्ज कराया गया है। पुलिस की एक टीम राम मोहली की तलाश में गई लेकिन वह नहीं मिला। एसपी ने बताया कि एक आरोपी की पहचान कर ली गई है। आरोपियों की तलाश में छापेमारी की जा रही है।

धान झाड़ने के लिए आई थी मायके

महिला के पति ने बताया कि उसके पांच बच्चे हैं। इन दिनों खेत में धान झाड़ने का काम चल रहा है। एक माह पहले काम में हाथ बंटाने के लिए पत्नी के साथ उसके घर आया था। मंगलवार की शाम पत्नी के कहने पर ही बाजार गया था। लौटते समय पत्नी के साथ इस तरह का गलत काम हो गया।

मामला दर्ज कर लिया गया है

महिला के बयान पर 17 लोगों के खिलाफ सामूहिक दुष्कर्म का मामला दर्ज किया गया है। बाजार से घर लौटने के क्रम में घटना को अंजाम दिया गया है। घटना की सत्यता का पता करने के लिए पुलिस अनुसंधान कर रही है। आरोपियों की तलाश में छापेमारी की जा रही है।– सुदर्शन कुमार मंडल, डीआइजी दुमका

सोरेन सरकार में बेटियां सुरक्षित नहींः BJP

इधर, BJP प्रवक्ता प्रतुल शाहदेव ने दुमका गैंगरेप की घटना पर कहा कि इसे जंगलराज नहीं कहेंगे तब क्या कहेंगे। बहू-बेटियां सुरक्षित नहीं हैं। उनकी इज्जत लगातार लूटी जा रही है। दरिंदगी की सारी हदें पार हो रही हैं। ऐसे वहशी दरिंदों के मन से कानून का खौफ निकल रहा है। क्यों। इसके लिए कौन जिम्मेदार है। BJP प्रवक्ता ने कहा कि हेमंत सोरेन सरकार में बेटियां सुरक्षित नहीं है। इन वहशी दरिंदों की तुरंत गिरफ्तारी हो। फास्ट ट्रैक कोर्ट से अधिकतम सजा दिलाई जाए।

Trả lời

Email của bạn sẽ không được hiển thị công khai.