• 11 Tháng Hai, 2022

किसान जनार्दन के खाते में अचानक आए 15 लाख रुपए, 9 लाख का घर बनवा लिया, लेकिन एक गलती कर बैठे

कभी-कभी लोगों के खाते में अचानक लाखों, करोड़ों रुपए आ जाते हैं। लोगों को समझ में नहीं आता कि कैसे इतने पैसे आए। आप को समझ में नहीं आता इनका क्या किया जाय। लेकिन अगर आपने किसान जनार्दन औटे वाली गलती कर दी तो उन्हीं की तरह मुसीबत में भी फंस सकते हैं। इसलिए जब भी इस तरह अचानक बैंक खाते में पैसे आएं तो कुछ बातों का ध्यान रखना बहुत जरूरी है।

बैंक में अचानक आए पैसे को खर्च ना करें

अगर आपके खाते में इस तरह से अचानक पैसे आ जाते हैं, तो सबसे पहले इस बात का ध्यान रखें कि आप इनमें से एक भी रुपया खर्च ना करें, क्योंकि ये पैसे आपके नहीं है, इसलिए इस पर कानूनी तौर पर या नैतिक आधार पर आपका कोई अधिकार नहीं है। कई बार तकनीकी गड़बड़ी या बैंक कर्मचारी की मानवीय भूल से ऐसा हो जाना संभव है।

ऐसे में पैसे आपके खाते में आने से वो आपके नहीं हो जाते। इतना ही नहीं अगर आप ये पैसे कहीं खर्च करते हैं और बाद में बैंक आपसे वापस मांगता है तो आपके लिए इतनी बड़ी रकम एक साथ जुटाना मुश्किल हो जाएगा।

खाते में पैसे आने की सूचना तुरंत बैंक को दें

अगर आपके खाते में अचानक से ऐसी रकम आई है जिसके आने की आपको कोई उम्मीद नहीं थी, तो आपको इसकी सूचना बैंक को देनी चाहिए या खुद पूछताछ करनी चाहिए कि आपके खाते में ये रकम क्यों आई है? क्या पता ये रकम किसी अवैध लेनदेन से जुड़ी हो। इससे आप कानूनी पचड़ों में फंसने भी बचेंगे।

अगर आप बैंक जाकर इस तरह के लेनदेन के बारे में सूचित नहीं करना चाहते, तो भी चलेगा, क्योंकि कई बार ऐसा देखने में आया है कि गलती से क्रेडिट हुई रकम को बैंक कुछ समय बाद वापस ले लेते हैं और फिर उसे सही खाते में पहुंचा देते हैं। बैंक के पास ये रकम आपसे वापस मांगने का कानूनी अधिकार होता है।

किसान जनार्दन ने क्या गलती की?

महाराष्ट्र के किसान ज्ञानेश्वर जनार्दन औटे ने यही गलती की थी कि उन्होंने ने खाते में अचानक आए पैसे को खर्च कर दिया। जनार्दन महाराष्ट्र के औरंगाबाद में पैठण तालुका के दावरवाड़ी के एक किसान हैं। पिछले साल अगस्त में एक दिन उनके जनधन खाते में अचानक से 15 लाख रुपये आ गए। इसके बाद उन्होंने उस रकम में से 9 लाख रुपये अपना घर बनवाने पर खर्च कर दिए। अब बैंक उनसे ये रकम वापस मांग रहा है।

अब 9 लाख जितनी बड़ी रकम चुकाना उनके लिए मुश्किल पड़ रहा है। बैठे-बिठाए एक गलती से जनार्दन मुसीबत में फंस गए हैं। इस तरह की घटनाएं पहले भी हो चुकी हैं।पहले यूपी और बिहार से भी इस तरह की मामले सामने आ चुके हैं। इसलिए इस तरह के मामलों में सावधानी बरतना बहुत जरूरी है।

Trả lời

Email của bạn sẽ không được hiển thị công khai.